20 अमेजिंग फैक्ट अबाउट इसाक न्यूटन : न्यूटन की कहानी आविष्कार और खोज .

आज हम 20 अमेजिंग फैक्ट अबाउट इसाक न्यूटन मे जानेंगे कि सर आइज़क इसाक न्यूटन वह साइंटिस्ट थे जिन्होंने केवल अपने दम पर मॉडल साइंस का नक्शा बदल कर रख दिया न्यूटन एक मैथमेटिशियन एस्ट्रोनॉमर ऑथर हिस्टोरियन और 1 फिलॉस्फर थे .

20 अमेजिंग फैक्ट अबाउट इसाक न्यूटन
20 अमेजिंग फैक्ट अबाउट इसाक न्यूटन

आज वह पूरे दुनिया में सबसे एक महान साइंटिस्ट माने जाते हैं . आज आप इस वैज्ञानिक से रिलेटेड 20 ऐसे इसाक न्यूटन फैक्ट के बारे में जानोगे जो शायद ही आपने पहले कभी सुने होंगे .

20 अमेजिंग फैक्ट अबाउट इसाक न्यूटन

#20. हम बचपन से कहानी सुनते आए हैं कि न्यूटन एक दिन सेब के पेड़ के नीचे बैठे हुए थे एक सेब टूट कर उनके सर पर आ लगा तब उन्होंने सोचा कि यह सेब नीचे ही क्यों आया इधर-उधर या ऊपर क्यों नहीं गया और यदि सभी चीजों को धरती पर ही गिरना होता है तो चांद भी तो ऊपर दिखाई देता है वह नीचे क्यों नहीं गिरता .

तब न्यूटन ने सोचा कि जरूर कोई धरती के अंदर फोर्स है जो चीजों को अपनी और आकर्षित करता है और यहां से न्यूटन को ग्रेविटी का आइडिया आया अब इस कहानी के बारे में बहुत सारी राय है .

बहुत से स्कॉलर्स कहते हैं यह सिर्फ बाद में बनाई गई एक कहानी है और एक फ्रेंड चैटर व वॉल्टियर ने इस कहानी को पॉपुलर किया है बहुत से स्कॉलर्स कहते हैं कि यह कहानी सच है लेकिन सेव उनके सर पर नहीं बल्कि आगे गिरा था कहा यह भी जाता है कि वह सेब के पेड़ के नीचे नहीं बैठे थे बल्कि अपने घर के विंडो से सेब के पेड़ को देख रहे थे और तब गिरते सेव को देखकर उन्हें ग्रेविटी का आइडिया आया .

ऐसे भी एविडेंस मौजूद है जो इस कहानी को सच साबित करते हैं ज्यादातर स्कॉलर्स मानते हैं कि न्यूटन ने सारी घटना को अपने समय के 1 वैज्ञानिक और लेखक विलियम्स स्टोकुली को बताया था विलियम स्टोकुली यह ऐसे लेखक हैं जिन्होंने सबसे पहले न्यूटन के लाइफ के बारे में लिखा था जो बुक उन्होंने उस समय लिखी थी उसका नाम था मेमोरीज ऑफ़ आइज़क न्यूटन लाइव यह बुक अभी ब्रिटेन में एकदम सुरक्षित रखी हुई है

#19. Apple कंपनी का जो सबसे पहला लोगों था उसमें न्यूटन की तस्वीर छपी हुई थी इस पिक्चर में वही दिखाया गया था जिसमें न्यूटन एक पेड़ के नीचे बैठ कर आराम कर रहे थे और सेब उनके सर पर आकर गिर जाता है और उन्हें तब ग्रेविटी का आईडी आता है .

#18. 1665 में इंग्लैंड के कैंब्रिज शहर में प्लेग की बीमारी बहुत तेजी से फैल गई थी उस समय न्यूटन कैंब्रिज के त्रिनिटी कॉलेज में पढ़ाई कर रहे थे इस बीमारी से बचने के लिए न्यूटन और उनके दोस्तों को उनके घर रवाना कर दिया यही लाइफ उनके लिए प्रोडक्टिव साबित हुआ यही वह टाइम था जिसमें उन्होंने कैलकुलस का आविष्कार किया ( न्यूटन के आविष्कार ) और उन्होंने हमें वह चीज दी जिसे आज न्यूट्रॉनइन फिजिक्स कहते हैं .

#17. न्यूटन की खोज : न्यूटन ने बहुत सालों तक अपने डिस्कवरी को दुनिया से चुराए रखा और उसके बारे में किसी को नहीं बताया शायद उनको डर लगता था कि उनकी किए गए खोजो को लोग सही नहीं मानेंगे.

#16. न्यूटन एक बहुत बड़े साइंटिस्ट होने के बाद भी एक धार्मिक इंसान थे उन्होंने लिखा है ग्रेविटी हमें ग्रहों की गति के बारे में बताती है लेकिन यह नहीं बता सकती कि इन ग्रह को गति में किसने सेट किया हुआ है. ईश्वर सभी चीजों को नियंत्रित करता है और वह जानता है कि क्या है और क्या किया जा सकता है.

#15. आपको जानकर यह हैरानी होगी कि न्यूटन धार्मिक होने के बावजूद और ईश्वर में विश्वास रखने के बावजूद भी भूत आत्मा और शैतान जैसे बातों पर विश्वास नहीं रखते थे .

#14. न्यूटन को बाइबल को लेकर बहुत जुनून था बाइबल को बड़े गहराई से पढ़ा करते थे यहां तक कि साइंस से ज्यादा उन्होंने धर्म और इतिहास के बारे में लिखा है.

#13. बाइबल पढ़ने के बाद ही उन्होंने बहुत सी चीजों को प्रिडिक्ट किया न्यूटन ने बाइबिल को पढ़ने के बाद यह अनुमान लगा लिया था कि जीसस को सूली एग्जैक्ट 30 अप्रैल 33AD को दी गई थी.

#12. न्यूटन के हिसाब से यह दुनिया 2060 से पहले खत्म नहीं होगी.

#11. कहां जाता है कि न्यूटन ने पहले ही बता दिया था कि यहूदी फिर से इसराइल को फिर से हासिल कर लेंगे और उनकी यह भविष्यवाणी सच साबित हुई.

#10. बाइबल को लेकर उनका जुनून इतना ज्यादा था कि रजत इसीलिए हिब्रू भाषा को सीखने चले गए क्योंकि उन्हें बाइबिल में रहस्य को समझना था आपको जानकर हैरानी होगी कि आज हम जिस न्यूटन को नाम से जानते हैं उन्होंने अपने आधे काल में साइंस पर रिसर्च करने की वजह आधा जीवन धर्म के सुधिया को जानने में लगा दिया.

#9. जिस साल गैलीलियो गैलीलिी की डेथ हुई थी सेम उसी साल सर आइज़क न्यूटन का जन्म हुआ था.

#8. जब न्यूटन का जन्म हुआ तब वह नॉर्मल नहीं थे उनका आकार और वजन बहुत कम था वह समय से पहले पैदा हुए थे उनकी मां ने बताया था कि उनका आकार इतना कम था कि वह एक छोटे मग में समा सकते थे इसलिए इनकी जिंदा बचने की उम्मीद बहुत ही कम थी.

#7. आइज़क न्यूटन के फादर का नाम भी आइज़क न्यूटन ही था.

#6. न्यूटन के जन्म के 3 महीने पहले उनके फादर की डेथ हो गई. न्यूटन के पिता का नाम : Isaac Newton Sr.

#5. न्यूटन ने आजीवन शादी नहीं की.

#4. न्यूटन की मां चाहती थी कि वह फार्मर बने उनका जन्म एक फार्मर फैमिली में हुआ था लेकिन न्यूटन को फार्मिंग बिल्कुल पसंद नहीं थी.

#3. न्यूटन ही साइंटिस्ट है जिन्होंने बताया था कि पृथ्वी गोल नहीं बल्कि अंडाकार है.

#2. जिस एप्पल ट्री से न्यूटन को ग्रेविटी का आईडी आया था उस ट्री का वंशज आज भी इंग्लैंड में है हालांकि जो ओरिजिनल ट्री था वह 1815-1820 के बीच नष्ट हो गया था .

एप्पल ट्री का साइंस के लैब में बड़ा महत्व है क्योंकि इसी ट्रीज से एप्पल को नीचे गिरता देख कर न्यूटन ने ग्रेविटी स्कोर खोजा था.

#1. इसी पेड़ की लकड़ी का टुकड़ा आइज़क की फोटो के साथ स्पेस मैं भी भेजा गया है ताकि न्यूटन ने जो साइंस में हमें और दुनिया को दिया है उसके लिए उन्हें आभार व्यक्त किया जा सके और उस एप्पल को जीरो ग्रेविटी का एहसास कराया जा सके यदि आज न्यूटन जिंदा रहते तो खुशी के मारे मर जाते.

न्यूटन के नियम

न्यूटन का पहला नियम :

प्रत्येक पिण्ड तब तक अपनी विरामावस्था में अथवा सरल रेखा में एकसमान गति की अवस्था में रहता है जब तक कोई बाह्य बल उसे अन्यथा व्यवहार करने के लिए विवश नहीं करता।

न्यूटन का दूसरा नियम

द्वितीय नियम: किसी भी पिंड की संवेग परिवर्तन की दर लगाये गये बल के समानुपाती होती है और उसकी (संवेग परिवर्तन की) दिशा वही होती है जो बल की है।

न्यूटन का तीसरा नियम

प्रत्येक क्रिया के समान एवं विपरीत प्रतिक्रिया होती है। … गति का तृतीय नियम यह इंगित करता है की जब एक वस्तु किसी दुसरे वास्तु पर बल का प्रयोग करता है, तत्क्षण ही वह दूसरा वस्तु पहले वस्तु पर वापस बल लगाता है। प्रयोग किए गए दोनों बल परिमाण में बराबर होते है , पर दिशा में विपरीत।